Tuesday , January 23 2018
Home / आयुर्वेदिक उपचार / बेहोशी का इलाज घरेलु उपचार

बेहोशी का इलाज घरेलु उपचार

बेहोशी का इलाज

बेहोशी का इलाज
बेहोशी का इलाज

बेहोशी का यह रोग आकस्मिक भय, अधिक मद्यपान, मासिक धर्म की रुकावट और अनियमित आहार, अत्याधिक चिंताओं, दुर्बलता व विषपान के कारण होता है। मोर्चा ग्रस्त रोगी की नाडी व श्वास की गति सामान्य बनी रहती है। आये देखे बेहोशी का इलाज और बेहोशी के लक्षण|

बेहोशी के लक्षण:

इस रोग मे  व्यक्ति अचानक बेहोश हो जाता है जब किसी व्यक्ति को सुख दुख या अन्य किसी तरह की परेशानी का अनुभव करने की सामर्थ्य नहीं रहता और वह चलते फिरते उठते-बैठते अचानक ही आंशिक रूप से यह पूर्ण रूप से संज्ञाहीन हो जाता है। तो इस अवस्था को मुरझा या बेहोशी के नाम से जाना जाता है। इस रोग में व्यक्ति कभी भी चलते-फिरते समय अचानक से बेहोश हो जाता है। और यह बेहोशी बहुत हानिकारक होती है। इस वक्त बहुत विपरीत प्रणाम होते हैं। दुर्बलता की वजह से आप किसी भी वक्त बेहोश हो सकते हैं। इसीलिए आहार पर विशेष ध्यान देना चाहिए। जितनी हो सके उतनी ज्यादा फल खाइए। स्वास्थ्य सेहत के लिए हर रोज प्रणाम कीजिए। अगर आप आहार पर विशेष ध्यान देते हो और रोजाना प्रणाम करते हो तो आपको कोई बीमारी नहीं होगी। और बेहोशी कैसी समस्या भी दूर हो जाएगी।

बेहोशी का घरेलु उपचार:

अगर आपको भी मुरछा आने की समस्या हो तो नीचे दिए गए उपचार कीजिए।

  • आंवला:

अगर आपको बेहोशी की समस्या हो तो आंवले के रस के साथ घी पकाकर रोगी को पिलाने से मूर्छा दूर हो जाती है।

  • बेर:

बेर को काली मिर्च, खस व नागकेसर के साथ समान मात्रा में मिलाकर महीन पीस ले।

  • खीरा:

बेहोश हुए व्यक्ति को खिरा काटकर सुंघाने से बेहोशी दूर हो जाती है।

  • अनार:

मूर्छा आने पर रोगी के मुंह में अनार का रस डालें इससे काफी लाभ होगा।

  • बादाम:

रात को सोते समय दो बादाम को गलाकर उन्हें सुबह चबा चबा कर खाए। इस उपचार से दो-तीन महीने बाद बेहोशी की बीमारी ठीक हो जाएगी।

  • सेव:

रोज एक गिलास सेव का रस पीने से बेहोशी नहीं आती।

मिर्गी का इलाज

पेट कम करने के उपाय हिंदी में

loading...

Check Also

चेहरे के दाग धब्बे हटाने के लिए उपाय

चेहरे के दाग धब्बे हटाने के लिए उपाय

चेहरे के दाग धब्बे हटाने के लिए उपाय नमस्कार दोस्तों, आप हमेशा ही नेट पर …

loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *